भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को फोर्ब्स पत्रिका की सूची में दुनिया के सबसे ताकतवर नेताओं में जगह मिली है। उन्हें विश्व के शीर्ष 10 प्रभावशाली लोगों में नौंवे नंबर पर शुमार किया गया है।
फोर्ब्स ने अपने बयान में कहा है कि मोदी का नोटबंदी वाला फैसला देश में भ्रष्टाचार खत्म करने की दिशा में बड़ कदम रहा। दुनिया के 75 सबसे ताकतवर लोगों की सूची में चीन के राष्ट्रपति शी जिनपिंग रूसी राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन को पीछे छोड़ते हुए पहली बार नंबर-1 पर पहुंचे हैं। जबकि डोनाल्ड ट्रंप को तीसरे स्थान पर संतुष्ट होना पड़ा है।

मोदी ने दुनिया के कई शीर्ष लोगों को पछड़कार नौवां स्थान पाया है। इनमें फेसबुक सीईओ मार्क जुगरबर्ग (13वीं रैंक), ब्रिटिश पीएम टेरेजा मे (14वीं रैंक) पीएम केकियांग (15वीं रैंक) और एप्पल सीईओ टिम कुक (24वीं रैंक) हैं। मोदी के बाद फोर्ब्स इस सूची में दूसरे भारतीय कारोबारी मुकेश अंबानी हैं।

अंबानी को 32वां स्थान मिला है जबकि भारतीय मूल के माइक्रोसॉफ्ट सीईओ सत्या नडेला 40वें पायदान पर हैं। फोर्ब्स ने कहा है कि मोदी दुनिया के दूसरे सबसे अधिक आबादी वाले देश में बेहद लोकप्रिय बने हुए हैं।

मोदी को जलवायु परिवर्तन से निपटने के लिए अंतरराष्ट्रीय प्रयासों में भी एक प्रमुख शख्सियत के रूप में उभरते हुए बताया गया। पत्रिका के मुताबिक, बीते बर्षों में अमेरिकी राष्ट्रपति और चीनी राष्ट्रपति शी जिनपिंग से मुलाकात करके भारत के पीएम वैश्विक नेता बनकर उभरे हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here